केजरीवाल सरकार की दिल्ली को नहीं सौगात – बड़ी से बड़ी सर्जरी होगी मुफ्त

केजरीवाल सरकार की दिल्ली को नहीं सौगात – बड़ी से बड़ी 1100 सर्जरी होगी मुफ्त

दिल्ली सरकार प्रदेश की जनता को एक बहुत बड़ी सौगात देने जा रही है जो कि आयुष्मान भारत योजना से भी बहुत अधिक बड़ी मानी जाएगी. दिल्ली की सरकार जनता  की मुफ्त में सर्जरी करवाएगी, यह सर्जरी कोई भी करवा सकता, इसके लिए कोई आय लिमिट नहीं है. इस योजना का लाभ लेने के लिए जरूरी नहीं है कि केवल सरकारी अस्पतालों में ही यह सर्जरी करवाई जाए, अगर किसी सर्जरी के लिए कोई डॉक्टर उपस्थित  नहीं है और 30 दिनों के अंदर मरीज का इलाज नहीं हो पा रहा है, तो ऐसी कंडीशन में मरीज निजी अस्पतालों में जाकर भी डॉक्टर से सर्जरी करवा  सकते हैं और इसके लिए मरीज को 1 रुपये भी खर्च करने की जरूरत नहीं होगी. अब तक इस योजना में 86 मुफ्त सर्जरी हो रही थी, पर आने वाले समय में 1100 सर्जरी का लाभ मरीजों को मिलेगा, जिसके लिए मरीज को को 1 रुपये भी खर्च करने की जरूरत नहीं होगी.

free surgery scheme delhi in hindi

योजना के मुख्य बिन्दु –

  1. इस योजना के भीतर लिस्ट किए गए हॉस्पिटल में 1102 सर्जरी मुफ्त में की जाएंगी. जिन में से 86 सर्जरी की शुरुवात हो चुकी हैं और 1016 उस लिस्ट में जुडने वाली हैं जिसमें 123 oncology, 10 neonatal एवं 6 vector borne के लिए हैं.
  2. सर्जरी के लिए पैसा दिल्ली आरोग्य कोष के माध्यम से दिया जाएगा.
  3. 56 गैर सरकारी हॉस्पिटल में भी यह सुविधा मिलेगी.
  4. जून 2019 तक चार हजार पाँच सौ लोग योजना का लाभ ले चुके हैं.

सरकार द्वारा कुछ शर्ते रखी गई हैं वे इस प्रकार हैं –

  1. फ्री सर्जरी का लाभ उन्ही लोगो को प्राप्त होगा जो कि दिल्ली के रहवासी हो इसलिए उनके पास मूलनिवासी प्रमाण पत्र होना जरूरी हैं.
  2. मरीज के पास ओपीडी  स्लिप का होना भी अनिवार्य हैं.
  3. प्राइवेट हॉस्पिटल में तब ही सर्जरी हो सकती हैं जब सरकारी हॉस्पिटल में वेटिंग लिस्ट में दर्ज हुये कैंडिडैट को 30 दिनों से ज्यादा का समय हो गया हो.
  4. योजना के भीतर आय की कोई लिमिट नहीं हैं इस योजना का लाभ कोई भी व्यक्ति ले सकता हैं.
  5. सर्जरी बिल संबंधी भी कोई लिमिट नहीं हैं जितना भी खर्चा होगा सरकार द्वारा वहन किया जाएगा.

योजना का लाभ लेने के लिए कोई आवेदन प्रक्रिया नहीं है, लाभार्थी हॉस्पिटल में सीधे जाकर लाभ प्राप्त कर सकता है.

यह अब तक की सबसे बड़ी योजना मानी जा रही हैं जिसका लाभ गरीबों के साथ मध्यम वर्गीय परिवारों को भी मिलेगा. इस योजना का लाभ दिल्ली का कोई भी नागरिक ले सकता हैं बस उसके पास मूल निवासी प्रमाणपत्र होना अनिवार्य हैं. बीमारी में लोगो की सहायता करने का यह बहुत ही अच्छा एवं उम्दा मार्ग हैं इससे दिल्ली की जनता को बहुत ज्यादा राहत मिलेगी.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *