हरियाणा अटल बिहारी वाजपेयी श्रमिक आवागमन योजना – निर्माण श्रमिकों को मिलेगी फ्री बस पास की सुविधा

हरियाणा अटल बिहारी वाजपेयी श्रमिक आवागमन योजना – निर्माण श्रमिकों को मिलेगी फ्री बस पास की सुविधा (Haryana Atal Bihari Vajpayee Shramik Avagaman Yojana in Hindi)

हमारे देश में श्रमिकों का कार्य एक बहुत ही मेहनती एवं महत्वपूर्ण कार्य होता है. और ऐसे में सरकार उन्हें भी हर सुविधा प्रदान करना चाहती है जोकि और लोगों को मिलती है. इसलिए उनके लिए समय – समाय पर नई – नई योजनायें भी शुरू की जाती हैं. जल्द ही हरियाणा सरकार कंस्ट्रक्शन का कार्य करने वाले श्रमिकों के लिए एक योजना ले कर आ रही है, जिसका नाम है ‘हरियाणा अटल बिहारी वाजपेयी श्रमिक आवागमन योजना’.

इस योजना के तहत कंस्ट्रक्शन कार्य करने वाले श्रमिकों को राज्य की सार्वजनिक परिवहन बसों में उनके काम के स्थान से घर और घर से काम के स्थान में यात्रा करने के लिए कोई भी शुल्क नहीं देना होगा. जी हाँ हरियाणा राज्य सरकार कंस्ट्रक्शन का कार्य करने वाले श्रमिकों को मुफ्त में बस पास उपलब्ध कराने जा रही है.

Haryana Atal Bihari Vajpayee Shramik Avagaman Yojana

दरअसल मुख्य रूप से कंस्ट्रक्शन कार्य करने वाले श्रमिक गरीब श्रेणी के होते हैं, और उन्हें मिलने वाली मजदूरी इतनी अधिक नहीं होती हैं कि वे अपने घर खर्च के अलावा भी कोई खर्च कर सकें, उनके पास इतने पैसे नहीं होते कि वे काम पर आने – जाने के लिए बस का किराया दे सकें. उनकी इस समस्या के समाधान के लिए हरियाणा सरकार मुफ्त में रोडवेज बस पास प्रदान करेगी और अब उन्हें अपने जेब से बस यात्रा के लिए कोई राशि नहीं देनी होगी.

हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि इस योजना में सरकार द्वारा जो बस पास मुहैया कराएँ जायेंगे, उसका वहन राज्य सरकार द्वारा किया जायेगा. इस योजना को लागू करने का निर्णय हरियाणा भवन और अन्य कंस्ट्रक्शन श्रमिक कल्याण बोर्ड (बीओसीडब्ल्यू) की 19 वीं बैठक में लिया गया है, जिसकी अध्यक्षता हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला जी ने ही की थी.

उप मुख्यमंत्री ने श्रम विभाग के अधिकारीयों को परिवहन विभाग के अधिकारीयों के परामर्श से तौर – तरीकों की रूपरेखा तैयार करने के निर्देश भी दिये हैं. अतः जल्द ही इस योजना को शुरू किया जा सकता है.    

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *