हरियाणा किसानों के लिए सहकारी ऋण चुकाने की अंतिम तिथि आगे बढ़ाई गई

हरियाणा किसानों के लिए सहकारी ऋण चुकाने की अंतिम तिथि आगे बढ़ाई गई

सरकार ने प्रदेश के किसानों के लिए एक अच्छी खबर सुनाई है. सरकार द्वारा लम सम पेमेंट स्कीम में अपना लोन वापस लौटाने की आखरी तारीख को बढ़ाकर 31 दिसंबर 2019 कर दिया है, जिस से ज्यादा से ज्यादा किसान अपना कर्ज वापस लौटा सकें.

सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने यह घोषणा की कि इस कर्ज लौटाने बाली योजना जो कि 1 सितंबर 2019 से 30 नवंबर 2019 तक चल रही थी, उसे आगे बढ़ाकर 31 दिसंबर कर दिया गया है. इस घोषणा से किसानों को काफी राहत मिलेगी और ज्यादा से ज्यादा किसान आगे आकार अपना कर्जा लौटा पाएंगे.

haryana Cooperative loan repayment scheme for farmers

उन्होंने कहा कि लगभग सात लाख पात्र किसानों में से, 1,98,561 किसानों को 30 नवंबर 2019 तक इस योजना के तहत पूर्ण ब्याज राहत प्रदान की गई है. इसी तरह और भी किसानों की इस योजना के अंतर्गत अंतिम तिथि के बढ़ जाने से लाभ प्राप्त होगा.

उन्होंने बताया कि राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंकों के तहत 92,258 अतिदेय ऋणी किसानों या सभी जिला प्राथमिक सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंकों के सदस्यों में से, 4,810 सदस्यों का इस योजना के तहत आधा ब्याज कर दिया गया जिससे उन्हे आधे ब्याज में राहत मिली.

उन्होंने बताया कि हरियाणा राज्य सहकारी अपेक्स बैंक, चंडीगढ़ और सभी जिला प्राथमिक सहकारी कृषि, ग्रामीण विकास बैंकों के अंतर्गत प्राथमिक सहकारी समितियों और राज्य सहकारी कृषि और ग्रामीण विकास बैंकों के तहत सभी जिला केंद्रीय सहकारी बैंकों के सदस्य इस योजना के अंतर्गत शामिल हैं जिन्होने अपने निजी कारणों के रहते अति देय ब्याज नहीं भरा हैं. इस योजना के तहत, प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों के 31 अगस्त, 2019 को अतिदेय ऋण सदस्यों को पूर्ण ब्याज की राहत प्रदान की गई है.

सरकार किसानों की हालत को सुधारने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही हैं. जिसके तहत उनका जीवनस्तर सुधारा जा सके. इसलिए राज्य एवं केंद्र द्वारा कई तरह की योजनायें चलाई जा रही हैं उन्हीं में कभी ब्याज माफी तो कभी डाइरैक्ट फ़ंड ट्रान्सफर सुविधा सरकार की तरह से दी जाती रही हैं इसके अलावा फसलों एवं सब्जियों का अच्छा दाम मिल सके इसके लिए भी सरकार द्वारा योजना चलाई जा रही हैं जिससे किसानों की आया बढ़े.

Other links –

Leave a Comment