जनता क्लिनिक योजना राजस्थान

जनता क्लिनिक योजना राजस्थान (Janta Clinic Yojana Rajasthan)

आने वाले कुछ दिनों में राजस्थान में पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने वाले एवं मुख्यमंत्री बने अशोक गहलोत जी कार्यालय में अपने कार्यकाल के 1 साल पूरे करने जा रहे हैं. इस उपलक्ष्य में 3 दिन का एक राज्य स्तरीय कार्यक्रम आयोजित होगा, जोकि 17 से 19 दिसंबर के बीच होगा और यह राज्य के लोगों को लाभ पहुँचाने के लिए होगा. क्योकि इसके कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा कुछ नई योजनायें लांच की जाएगी. उन योजनाओं में से एक योजना होगी ‘जनता क्लिनिक योजना’. जोकि 18 तारीख को राजधानी में लांच की जाएगी और इसकी शुरुआत राजधानी के जगतपुरा के वाल्मीकि नगर से की जाएगी.

Janta Clinic Yojana Rajasthan

इस योजना की घोषणा होने के काफी समय बाद इसे शुरू किया जा रहा है. दरअसल इस योजना की घोषणा अशोक गहलोत जी ने अपने राजस्थान बजट 2019 के दौरान की थी. यह योजना दिल्ली की ‘मोहल्ला क्लिनिक योजना’ से प्रभावित होकर शुरू की जा रही है.

शुरुआत में इस जनता क्लिनिक योजना को एक पायलट प्रोजेक्ट के तरह चलाया जायेगा. यानि इस योजना के लिए पहले राजधानी में क्लिनिक खोले जायेंगे और इसकी लगभग 1 साल तक जाँच की जाएगी, कि यह लोगों के बीच सफल हो पा रहा है या नहीं. यदि यह सफल होता हैं तो फिर इसे राज्य के अन्य चुने गए क्षेत्रों जैसे जोधपुर और अजमेर सहित लगभग 20 और अन्य जगहों पर खोला जायेगा. ओर यदि यह असफल होती हैं तो इसे बंद भी किया जा सकता है.

ये 20 जगहें राज्य की 4 विधानसभा क्षेत्रों के बीच में से चुनी गई है. ये विधानसभा क्षेत्र विद्याधर नगर विधानसभा, सिविल लाइन, सांगानेर एवं झोटवाडा है. आपको बता दें कि सबसे ज्यादा जनता क्लिनिक झोटवाडा विधानसभा के अंडर में खोले जा रहे हैं.

जनता क्लिनिक योजना के तहत राज्य की गरीब जनता के लिए बेहतर ईलाज के अवसर प्रदान किये जाने के लक्ष्य के साथ ये जनता क्लिनिक खोले जा रहे हैं. इन जनता क्लिनिक को ऐसे स्थान पर खोला जा रहा है, जहाँ ज्यादा संख्या में लोगों को इसकी जरुरत हैं, जैसे कि कच्ची बस्तियों में रहने वाले गरीब लोगों को आदि.

इन जनता क्लिनिक में अच्छे ईलाज के साथ ही जाँच की वे सभी सुविधायें प्रदान की जायेंगी जोकि एक प्राइमरी हेल्थ सेण्टर में दी जाती हैं, ताकि लाभार्थियों को पूरी तरह से और अच्छे से ईलाज मिल सके. इसके लिए इन जनता क्लिनिक में कुछ स्टाफ भी नियुक्त किया जायेगा. जिनमें एक डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ, फार्मासिस्ट के साथ ही नर्सिंग स्टाफ भी मौजूद होगा, जोकि ईलाज के लिए आने वाले सभी लाभार्थियों का पूरा ख्याल रखेंगे.

अतः आप भी यदि राजस्थान के निवासी हैं और गरीबी के चलते अपना ईलाज नहीं करा पा रहे हैं, तो आपके लिए ही यह योजना शुरू की गई हैं. आप इन जनता क्लिनिक में जाकर ईलाज कराएँ और स्वयं इस योजना के भागीदार बनें.

Other links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *