राजस्थान में स्कूल पाठ्यक्रम का हिस्सा होगा निरोगी योजना

मुख्यमंत्री निरोगी राजस्थान अभियान योजना 2020 (Nirogi Rajasthan Yojana in Hindi)

सरकार का यह कर्तव्य होता हैं कि आम लोगों का स्वास्थ्य बेहतर बना रहे इसे वे सर्वोच्च प्राथमिकता दें. इसके लिए जरूरी हैं कि वे ऐसी योजनायें लेकर आये जिससे कोई भी व्यक्ति निरोगी होने से वंचित न रह सकें. इसके चलते राजस्थान सरकार ने अपने राज्य के नागरिकों को निरोगी रखने के लिए एक हेल्थ केयर योजना की शुरुआत की हैं जिसका नाम है ‘निरोगी राजस्थान योजना’. यह एक योजना नहीं बल्कि एक अभियान है जोकि एक जन अभियान के रूप में कार्य कर रहा है. इस अभियान के तहत राज्य के नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाएं तो प्रदान की जाती ही हैं, साथ ही स्वास्थ्य संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी जैसे बीमारी से बचाव के बारे में जानकारी आदि स्वास्थ्य संस्थानों या अधिकारीयों द्वारा उन तक पहुँचाई जा रही है.

nirogi rajasthan yojana

साल 2018 में राजस्थान में गहलोत सरकार के आने के बाद अब तक उनके द्वारा 2 बार राजस्थान बजट पेश किया जा चूका है. हालही में दूसरी बार यानि वित्तीय वर्ष 2020-21 का आम बजट राजस्थान सरकार ने पेश किया हैं जोकि 7 प्रस्तावों पर आधारित है. उन्हीं 7 प्रस्तावों में से एक निरोगी राजस्थान भी है. हालांकि इस योजना को पिछले साल राजस्थान सरकार के सत्ता में आने की पहली वर्षगांठ पर लागू किया गया था.  

यह एक ऐसी योजना है जिसमें यदि किसी व्यक्ति को किसी बीमारी एवं उनके स्वास्थ्य संबंधी किसी प्रकार की जानकारी की आवश्यकता है तो वे एक हेल्पलाइन नंबर या वेबसाइट के माध्यम से वह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. इस योजना में मुख्यतः महिलाओं, बच्चों एवं बुजुर्गों को लाभ पहुँचाया जाना है. आप सोच रहे होंगे कि कैसे इन तक यह लाभ पहुंचेगा, तो आपको बता दें कि इन लाभार्थियों के लिए राज्य के मेडिकल कॉलेजों में मेडिकल जिरिएट्रिक डिपार्टमेंट का शुभारम्भ किया जा रहा है. जहां प्राथमिकता के आधार पर ये लाभार्थी मुफ्त में ईलाज एवं टेस्ट की सुविधा प्राप्त करने में सक्षम हो जायेंगे.

राजस्थान राज्य सरकार ने इस योजना को एक बहुआयामी योजना बनाने का निश्चय किया है. इसके साथ ही जल्द ही नागरिकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए मजबूत कानून बनाये जाने का भी निश्चय किया हैं. जिसमें मुख्य रूप से खाद्य पदार्थों में की जाने वाली मिलावट को रोकना शामिल है. इस योजना का लाभ राजस्थान का कोई भी नागरिक उठाने के लिए समर्थ है.

अतः इस अभियान का आरम्भ करने का राजस्थान राज्य सरकार का मुख्य लक्ष्य यही है कि राज्य का कोई भी नागरिक रोगी न रहे बल्कि सभी निरोगी बने रहें.

Other links – 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *